IMPORTANT BOOKS

MPPSC EXAM -2020 - महत्त्वपूर्ण जानकारी

MPPSC EXAM INFORMATION 


MPPSC 2020 महत्त्वपूर्ण  जानकारी

भारतीय संविधान के अनुच्छेद 315(1) के अनुसार संघ लोक सेवा आयोग (यू.पी.एस.सी.) के साथ-साथ प्रत्येक राज्य में राज्य आधारित सरकारीअर्द्ध-सरकारीन्यायिक एवं अन्य अधीनस्थ सेवाओं के आयोजन के लिये राज्य लोक सेवा आयोग’ की स्थापना का प्रावधान किया गया है। यह आयोग इन सेवाओं से संबद्ध परीक्षाओं का आयोजन कराता है। 
·   परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने वाले अभ्यर्थी मध्य प्रदेश राज्य  के प्रशासन के अंग होते हैं जिनकी नियुक्ति मध्य प्रदेश राज्य में ज़िलाप्रखंड व तहसील स्तर पर की जाती है।   
· MPPSC स्थायित्वसम्मान एवं कार्य करने की व्यापक एवं अनुकूल दशाओं इत्यादि का बेहतर मंच उपलब्ध कराने के कारण ये परीक्षाएँ अभ्यर्थियों एवं समाज के बीच सदैव प्राथमिकता एवं गौरव की विषयवस्तु रही हैं।  



MPPSC 2020 महत्त्वपूर्ण  जानकारी
MPPSC परीक्षा में सम्मिलित होने हेतु अर्हताएं 
·      MPPSC द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षाओं में सामान्यत: किसी भी राज्य के अभ्यर्थीजो आयोग द्वारा निर्धारित शर्तों (आयु सीमाशैक्षिक योग्यता इत्यादि) को पूरा करते होंसम्मिलित हो सकते हैं। 
·       MPPSC   EXAM  में सम्मिलित होने के लिये आवेदक की न्यूनतम आयु 21 वर्ष (किन्हीं विशिष्ट पद हेतु 18 वर्ष) तथा अधिकतम आयु  (कुछ विशेष आरक्षित प्रावधानों को छोड़कर) सामान्यत: 35-40 वर्ष निर्धारित की गई है। 
·             MPPSC   की  परीक्षाओं में सम्मिलित होने के लिये आवेदक को भारत में केन्द्रीय या राज्य विधानमंडल द्वारा अधिकृत किसी  विश्वविद्यालय या संसद के एक अधिनियम द्वारा स्थापित या घोषित शिक्षण संस्थान जिसे विश्वविद्यालय अनुदान आयोग अधिनियम,1956 की धारा-के अंतर्गत या आयोग के परामर्श से एक विश्वविद्यालय के रूप में मान्यता दी गई होसे डिग्री धारक होना चाहिये। 
·         MPPSC द्वारा  परीक्षा में कुछ विशेष पदों (पुलिस उपाधीक्षकअधीक्षक कारागार इत्यादि) के लिये शारीरिक मापदंड (सामान्यत: 165-167 सेमी.की लम्बाई इत्यादि ) तथा कुछ विशेष पदों (सांख्यिकीय अधिकारीबेसिक शिक्षा अधिकारीलेखाधिकारी इत्यादि) के लिये विशेष शैक्षणिक योग्यता का निर्धारण किया गया है।    
·         सिविल सेवा परीक्षा में आरक्षण कोटे का निर्धारण जहाँ केद्र सरकार द्वारा किया जाता हैवहीं MPPSC’  की परीक्षाओं में आरक्षण कोटे का निर्धारण मध्य प्रदेश राज्य  द्वारा अपने तरीके से किया जाता है। 



MPPSC 2020 महत्त्वपूर्ण  जानकारी

MPPSC परीक्षा की तैयारी कैसे करें  

·      MPPSC परीक्षा  में  तीन स्तर (प्रारंभिक परीक्षामुख्य परीक्षा एवं साक्षात्कार) होते हैं।  
     MPPSC  प्रारंभिक परीक्षा में दो प्रश्नपत्र होते हैंजिनमें  प्रथम प्रश्न  पत्र  सामान्य  ज्ञान ,एवं द्वितीय प्रश्नपत्र के रूप में सीसैट (सिविल सर्विसेज़ एप्टिट्यूड टेस्ट) का प्रश्नपत्र होता है।  
·        MPPSC की प्रारंभिक परीक्षा में सफल होने की पहली  शर्त  है- तथ्यों पर मज़बूत पकड़जबकि MPPSC मुख्य  परीक्षा में तथ्यों के साथ-साथ विश्लेषणात्मक क्षमता की भी आवश्यकता होती है। अत: अभ्यर्थियों को एक संतुलित रणनीति के साथ तैयारी करने की आवश्यकता है।  
·         देखा जाए तो MPPSC  ने अपने प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा के पाठ्यक्रम को UPSC  के अनुरूप बनाने का प्रयास किया हैकिंतु इन दोनों परीक्षाओं में पूछे जाने वाले प्रश्नों की प्रकृति एवं आयोगों द्वारा अपेक्षित उत्तर में अंतर होने के कारण इनकी गंभीर समझ होनी अनिवार्य है।    
MPPSC 2020 महत्त्वपूर्ण  जानकारी
        

MPPSC परीक्षा हेतु उपयुक्त रणनीति 

·         किसी भी परीक्षा को उत्तीर्ण करने के लिये उसकी प्रकृति एवं प्रक्रिया के अनुरूप उचित एवं गतिशील रणनीति बनाने की आवश्यकता होती हैजबकि MPPSC परीक्षाओं की तैयारी करने वाले अधिकांश अभ्यर्थी इन परीक्षाओं की रणनीति को या तो समझ नहीं पाते हैं या फिर इसे गंभीरता से नहीं लेते हैं। फलस्वरूप परीक्षा में अपेक्षानुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं। 
MPPSC 2020 महत्त्वपूर्ण  जानकारी
 MPPSCकी परीक्षाओं के नवीनतम पैटर्न को ध्यान में रखते हुए  अपनी तैयारी  करनी चाहिए !
  • मध्य  प्रदेश  के सामान्य  ज्ञान  से सम्बंधित पाठ्यक्रम  पर विशेष  ध्यान सेना चाहिए !
  • मध्य प्रदेश के  करंट  अफेयर  पर  अच्छी  पकड़ होनी चाहिए 
  •  मॉक-टेस्ट शृंखला में भाग लें और हर प्रश्नपत्र में परीक्षण करें कि किस वर्ग के प्रश्न कितने समय में हो पाते हैं। 
  • ज़्यादा समय लेने वाले प्रश्नों को पहले ही पहचान लेंगे तो परीक्षा में समय बर्बाद नहीं होगा। 
  • बार-बार अभ्यास करने से गति बढ़ाई जा सकती है।
  • ज्यादा से ज्यादा  किताबो को पड़ने से अच्छा है की कुछ महत्व पूर्ण  किताबो को ही बार बार रीवाइस करे!
  •   मध्य  प्रदेश  की जनगणना  एवं   जन जातियों  से सम्बंधित  तथ्यों  को अच्छी  पड़ना चाहिए !
  • यदि आपकी मध्य प्रदेश राज्य विशेष के सन्दर्भ में पकड़ अच्छी है तो आपको इससे सम्बंधित पूछे जाने वाले 20-25 प्रश्नों को पहले हल कर लेना चाहिये क्योंकि उनमें समय कम लगेगा और उत्तर ठीक होने की संभावना भी ज़्यादा होगी। ये 20-25 प्रश्न हल करने के बाद आपकी स्थिति काफी मजबूत हो चुकी होगी। इसके बाद, आप तेज़ी से वे प्रश्न करते चलें जिनमें आप सहज हैं और उन्हें छोड़ते चलें जो आपकी समझ से परे हैं। जिन प्रश्नों के संबंध में आपको लगता है कि वे पर्याप्त समय मिलने पर हल किये जा सकते हैं, उन्हें कोई निशान लगाकर छोड़ते चलें। 





Previous
Next Post »