IMPORTANT BOOKS

भारत के विश्व धरोहर स्थलों की राज्यवार सूची - महत्वपूर्ण तथ्यों के साथ

भारत के विश्व धरोहर स्थलों  की राज्यवार  सूची - महत्वपूर्ण तथ्यों के साथ  / STATE WISE LIST OF WORLD HERITAGE SITE IN INDIA

STATE WISE LIST OF WORLD HERITAGE SITE IN INDIA



वर्तमान में यूनेस्को द्वारा पूरे विश्व में लगभग 1121 स्थलों को विश्व विरासत स्थल घोषित किया जा चुका है,यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत स्थलों को तीन श्रेणियों में बांटा गया है-
सांस्कृतिक, प्राकृतिक और मिश्रित।
भारत में इन तीनों श्रेणियों को मिलाकर कुल 39 स्थल विश्व विरासत स्थल घोषित किए जा चुके हैं।
जिनकी सूची प्रत्येक राज्य के अंतर्गत आने वाले विश्व धरोहर स्थलों के रूप में यहां दी गई है।
यूनेस्को विश्व विरासत स्थलों की सूची को राज्यवार दिया गया है जो कि विभिन्न परीक्षाओं की दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण है।



             UNESCO WORLD HERITAGE SITE IN MADHYA PRADESH


WORLD HERITAGE SITE IN INDIA - MPPSC 2020



 खजुराहो मंदिर मध्य प्रदेश

 खजुराहो मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में स्थित एक छोटा सा
STATE WISE LIST OF WORLD HERITAGE SITE IN INDIA कस्बा है भारत में ताजमहल के बाद सबसे ज्यादा देखे जाने और घूमनेके लिए पसंद किए जाने वाले स्थानों में खजुराहो का नाम आता है खजुराहो को यूनेस्को द्वारा 1986 में विश्व विरासत स्थल की सूची में शामिल किया गया खजुराहो वात्सायन की कामुक प्रतिमाओं तथा कंदरिया महादेव मंदिर तथा जैन मंदिरों के लिए विश्व प्रसिद्ध है।।



                                                                सांची का स्तूप मध्य प्रदेश


STATE WISE LIST OF WORLD HERITAGE SITE IN INDIA सांची का स्तूप बौद्ध स्मारक है जो कि मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में सांची नामक स्थान पर स्थित है । 
इस स्तूप को सन 1989 में यूनेस्को की विश्व विरासत सूची में सम्मिलित किया गया
इस स्तूप का निर्माण सम्राट अशोक के द्वारा करवाया गया था ।



भीमबेटका की गुफाएं मध्य प्रदेश 


STATE WISE LIST OF WORLD HERITAGE SITE IN INDIAभीमबेटका गुफाएं भारत के मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में स्थित है
इन गुफाओं को वर्ष 2003 में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल की सूची में सम्मिलित किया गया था,भीमबेटका गुफा समूह की खोज 1957 में डॉ विष्णु श्रीधर वाकणकर के द्वारा की गई थी। भीमबेटका की गुफाओं का संबंध नवपाषाण काल से है।




UNESCO WORLD HERITAGE SITE IN  MAHARASHTRA



अजंता की गुफाएं महाराष्ट्र

 इन गुफाओं को 1983 में यूनेस्को की हेरिटेज सूची में सम्मिलित किया गया
यह गुफाएं महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में स्थित है ,
यह गुफाएं अपने भित्ति चित्रकारी के लिए विश्व विख्यात है
 इन गुफाओं का संबंध बौद्ध धर्म के आख्यान और हिंदू देवताओं से संबंधित है ।
इस गुफा समूह में कुल 29 गुफाएं हैं जिनमें से वर्तमान में केवल 6 गुफाएं ही शेष है।


एलोरा की गुफाएं महाराष्ट्र

एलोरा की गुफाएं 1983 में वर्ल्ड हेरिटेज साइट के रूप में स्वीकार की गई
यह गुफाएं महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले के वेरुल नामक स्थान पर स्थित है
इनकी कुल संख्या 34 है जिनमें गुफा क्रमांक 1 से 12 तक का संबंध बौद्ध धर्म से, तथा गुफा क्रमांक 13 से 29 तक हिंदुओं और गुफा क्रमांक 30 से 34 तक जैन धर्म से संबंधित गुफाएं हैं
एलोरा की गुफाओं में 10 क्षेत्र ग्रह भी स्थित है


 एलिफेंटा की गुफाएं महाराष्ट्र

 इन गुफाओं को 1987 में यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज लिस्ट में सम्मिलित किया गया था
एलिफेंटा की गुफाएं महाराष्ट्र राज्य में मुंबई शहर के पास स्थित है
यह गुफाएं मूर्तियों के लिए विश्व विख्यात है जिसमें त्रिमूर्ति शिव की मूर्ति सर्वाधिक लोकप्रिय है
यह गुफाएं मुंबई से 11 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है
 इनमें महेशमूर्ति गुफा सर्वाधिक प्रसिद्ध है।


छत्रपति शिवाजी टर्मिनल मुंबई

 इसे वर्ष 2004 में इस सूची में सम्मिलित किया गया है 
छत्रपति शिवाजी टर्मिनल को पहले  विक्टोरिया टर्मिनल के नाम से जाना जाता था
 छत्रपति शिवाजी टर्मिनल मुंबई का एक ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन है।

IMPORTANT BOOKS FOR MPPSC EXAM 



मुंबई का विक्टोरियन और आर्ट डेको एंसेंबल

इसे वर्ष 2018 में इस सूची में सम्मिलित किया गया है यह मुंबई शहर में स्थित है।
इसे यूनेस्को की समिति ने 42 में सत्र में सम्मिलित किया।




UNESCO WORLD HERITAGE SITE IN UTTAR PRADESH




आगरा का लाल किला

इसे 1983 में इस सूची में सम्मिलित किया गया
आगरा के लाल किले की संरचना मुगल बादशाह अकबर के द्वारा बनाई गई थी तथा इसका निर्माण कार्य शाहजहां के द्वारा पूरा करवाया गया।
 यह किला लाल बलुआ पत्थर से बना हुआ है
इस किले का निर्माण  1656 के लगभग हुआ था।


click here - exam preparation from home 


ताजमहल आगरा


ताजमहल को 1983 में इस सूची में सम्मिलित किया गया
 ताजमहल को भारत की इस्लामी कला का सर्वश्रेष्ठ उदाहरण माना जाता है
STATE WISE LIST OF WORLD HERITAGE SITE IN INDIA

 ताजमहल सफेद संगमरमर से निर्मित संसार भर में प्रसिद्ध कलाकृति है।
ताजमहल का निर्माण मुगल बादशाह शाहजहां ने अपनी पत्नी आरजूमंद बानो बेगम जिसे वह प्यार से मुमताज महल भी कहते थे उसकी याद में बनवाया गया था।
ताजमहल विश्व के सात आश्चर्य से एक है


फतेहपुर सीकरी आगरा

 इसे 1986 में विश्व धरोहर स्थलों की सूची में सम्मिलित किया गया है
इस शहर का निर्माण मुगल सम्राट अकबर के द्वारा करवाया गया था।
अकबर द्वारा फतेहपुर सीकरी का निर्माण 1602 में अपनी गुजरात विजय के स्मारक के रूप में करवाया गया था।


किसी भी कोचिंग में एडमिशन लेने से पहले  इन बातो का रखे विशेष ध्यान 
7 important tips for clear exam from home without coaching 
important  study material for exams 
 mppsc /civil service exam preparation 



UNESCO WORLD HERITAGE SITE IN BIHAR 



महाबोधि मंदिर बोधगया

 महाबोधि मंदिर बोधगया बिहार में स्थित है
महाबोधि मंदिर में ही भगवान बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ति हुई थी
यूनेस्को द्वारा इस स्थल को वर्ष 2002 में विश्व धरोहर स्थलों की सूची में सम्मिलित किया गया
 इस मंदिर का निर्माण सम्राट अशोक द्वारा करवाया गया था।



नालंदा -बिहार
बिहार राज्य में स्थित नालंदा को वर्ष 2016 में इस सूची में सम्मिलित किया गया है
नालंदा प्राचीन इतिहास का एक बहुत वैभवशाली है।
भारत के प्राचीन इतिहास काल में नालंदा शिक्षा का एक विश्व विख्यात स्थल था।


IMPORTANT BOOKS FOR MPPSC EXAM 

UNESCO WORLD HERITAGE SITE IN GUJARAT 



चंपानेर-पावागढ़ पुरातत्व उद्यान गुजरात

इसे 2004 में विश्व धरोहर स्थल की सूची में सम्मिलित किया गया है
यहीं पर विश्व प्रसिद्ध कालिका माता का मंदिर पावागढ़ पहाड़ी पर स्थित है


अहमदाबाद का ऐतिहासिक शहर गुजरात

गुजरात राज्य के अहमदाबाद शहर का ऐतिहासिक हिस्सा वर्ष 2017 में विश्व विरासत स्थलों की सूची में सम्मिलित किया गया है
अहमदाबाद का ऐतिहासिक शहर भारत के प्राचीन स्थलों में सम्मिलित है
 इस शहर का संबंध हड़प्पा संस्कृति से माना जाता है।
अहमदाबाद के निकट का क्षेत्र हड़प्पा कालीन व्यापारिक केंद्र हुआ करता था।

रानी की वाव गुजरात

इसे वर्ष 2014 में इस सूची में सम्मिलित किया गया है
रानी की वाव गुजरात राज्य के पाटन जिले में स्थित प्रसिद्ध बावड़ी है
रानी की वाव को रानी उदयमति ने अपने पति राजा भीमदेव की याद में सन 1063 में बनवाया था


UNESCO WORLD HERITAGE SITE IN RAJASTHAN 



जंतर मंतर जयपुर

जयपुर स्थित जंतर मंतर को वर्ष 2010 में इस सूची में सम्मिलित किया गया था
जयपुर स्थित जंतर मंतर का निर्माण आमेर के राजा सवाई जयसिंह द्वितीय द्वारा करवाया गया था
 जंतर मंतर भारत भर में पांच जगह स्थित है यह स्थान क्रमशः जयपुर दिल्ली उज्जैन बनारस और मथुरा है।
इन स्थानों पर खगोल शास्त्र से संबंधित विभिन्न गणना की जाती है


केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान राजस्थान


STATE WISE LIST OF WORLD HERITAGE SITE IN INDIA
केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान को 1985 में यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज साइट में सम्मिलित किया गया था
 यह भारत का सबसे बड़ा पक्षी अभयारण्य है
यह राजस्थान के भरतपुर जिले में स्थित है
 केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान विश्व भर से आने वाले प्रवासी पक्षियों की शरण स्थली के लिए पूरे विश्व में प्रसिद्ध है।


राजस्थान के पहाड़ी किले

राजस्थान के पहाड़ी कीड़ों को वर्ष 2013 में विश्व विरासत सूची में सम्मिलित किया गया है
 यह किले निम्न है
 चित्तौड़गढ़ का किला,
 कुंभलगढ़ का किला,
 रणथंभोर का किला
 गगरोन का किला
 आमेर का किला
 तथा जैसलमेर का किला यह सभी किले अरावली पर्वतमाला में स्थित है यह सभी पहाड़ी की ले राजपूत स्थापत्य कला के उत्कृष्ट उदाहरण है


गुलाबी शहर -जयपुर 

गुलाबी शहर -जयपुर  को वर्ष 2019  में विश्व विरासत सूची में सम्मिलित किया गया है





UNESCO WORLD HERITAGE SITE IN KARNATAK 

पत्तदकल के स्मारक कर्नाटक

पत्तादकल के स्मारकों को 1987 में यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज साइट में सम्मिलित किया गया
यह मंदिर आठवीं शताब्दी में बनवाए गए थे
 यहां के मंदिर द्रविड़ तथा नागर शैली दोनों श्रेणियों में निर्मित है



 हंपी के अवशेषों को वर्ष 1986 में यूनेस्को की विश्व विरासत सूची में सम्मिलित किया गया


STATE WISE LIST OF WORLD HERITAGE SITE IN INDIA


हंपी मध्यकालीन हिंदू राज्य विजयनगर साम्राज्य की राजधानी थी जो कि तुंगभद्रा नदी के तट पर स्थित है।
हंपी को मंदिरों का शहर भी कहा जाता है।



UNESCO WORLD HERITAGE SITE IN DELHI 



 हुमायूं का मकबरा नई दिल्ली के निजामुद्दीन औलिया की दरगाह के पास स्थित है


STATE WISE LIST OF WORLD HERITAGE SITE IN INDIA

इसे वर्ष 1993 में इस सूची में सम्मिलित किया गया था
हुमायूं के मकबरे का निर्माण उसकी पत्नी हाजी बेगम के द्वारा  करवाया गया था
 यह मकबरा  मुगल स्थापत्य कला का उत्कृष्ट उदाहरण है।



दिल्ली के लाल किले को वर्ष 2007 में इस सूची में सम्मिलित किया गया है दिल्ली के लाल किले का मुगल बादशाह शाहजहां के द्वारा करवाया गया था दिल्ली का लाल किला मुगलकालीन वास्तुकला का बेहतरीन उदाहरण है।
लाल किले के दो प्रवेश द्वार है जिसे लाहौर गेट तथा दिल्ली गेट के नाम से जाना जाता है



कुतुबमीनार को 1993 में यूनेस्को द्वारा इस सूची में सम्मिलित किया गया था
कुतुब मीनार का निर्माण 1199 में कुतुबुद्दीन ऐबक के द्वारा प्रारंभ करवाया गया था
 इल्तुतमिश के द्वारा कुतुब मीनार का निर्माण कार्य पूरा करवाया गया।
कुतुब मीनार की ऊंचाई 72.5 मीटर है।
क़ुतुब मीनार लाल और हल्के पीले पत्थरों से बनी हुई इमारत है।

UNESCO WORLD HERITAGE SITE IN ASSAM




मानस अभयारण्य असम  के  बारपोटा  जिले में स्थित है
इस अभयारण्य को 1985 में विश्व धरोहर स्थलों की सूची में स्थान दिया गया
परंतु 1992 में इसे इस सूची से हटा लिया गया था तथा फिर जून 2011 में पुनः इस सूची में मानस अभयारण्य को सम्मिलित किया गया।


काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान असम

 इसे 1984 में विश्व धरोहर सूची में सम्मिलित किया गया है
यह राष्ट्रीय उद्यान एक सींग वाले गैंडे का प्राकृतिक स्थल है।
काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में विश्व भर से प्रवासी पक्षी बड़ी संख्या में प्रतिवर्ष आते हैं।



IMPORTANT BOOKS FOR MPPSC EXAM 

UNESCO WORLD HERITAGE SITE IN WEST BENGAL


सुंदरवन राष्ट्रीय उद्यान पश्चिम बंगाल

 इनको 1987 में इस सूची में सम्मिलित किया गया है
सुंदरवन राष्ट्रीय उद्यान भारत के पश्चिमी बंगाल राज्य में स्थित है
 यह राष्ट्रीय उद्यान गंगा नदी के सुंदरवन डेल्टा क्षेत्र में स्थित हैं
 यह  टाइगर रिजर्व तथा बायोस्फीयर रिजर्व का क्षेत्र है
 यह क्षेत्र मैंग्रोव वनस्पति के लिए विश्व विख्यात है।



माउंटेन रेलवे पश्चिम बंगाल एवं हिमाचल प्रदेश

दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे को 1999 में  तथा नीलगिरि पर्वतीय रेल्वे को 2005 में यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज साइट में सम्मिलित किया गया है
 भारतीय माउंटेन रेलवे के तहत दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे ,नीलगिरि पर्वतीय रेलवे तथा कालका -शिमला रेलवे प्रमुख पर्वतीय रेलवे है।


UNESCO WORLD HERITAGE SITE IN TAMILNADU



महाबलीपुरम के स्मारक तमिलनाडु

इन स्मारकों को 1984 में इस सूची में सम्मिलित किया गया है
यह स्मारक सातवीं सदी में हिंदू पल्लव राजा नरसिंह देव बर्मन के द्वारा बनाए गए थे।
 महाबलीपुरम के स्मारक मंदिर भारत के प्राचीन वास्तुशिल्प के गौरव में उदाहरण माने जाते हैं
 यहां समुद्र तट पर बने हुए शिव मंदिर है।

चोल मंदिर तमिलनाडु

तमिलनाडु के चोल मंदिरों को वर्ल्ड हेरिटेज साइट में 1987 में सम्मिलित किया गया था।
इन मंदिरों का निर्माण दक्षिण भारत के चोल शासकों के द्वारा करवाया गया था
इनमें बृहदेश्वर मंदिर तंजावुर गंगाईकोंडचोलापुरम का मंदिर बहुत प्रसिद्ध है



UNESCO WORLD HERITAGE SITE IN HIMACHAL PRADESH


नंदा देवी नेशनल पार्क तथा फूलों की घाटी उत्तराखंड

इसे वर्ष 1988 में इस सूची में सम्मिलित किया गया है
यह उत्तराखंड राज्य में स्थित है
 यह क्षेत्र नंदा देवी पर्वत के आसपास स्थित है
नंदा देवी नेशनल पार्क से ऋषि गंगा नामक नदी बहती है
 यह एक बायोस्फीयर रिजर्व है।


ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क

STATE WISE LIST OF WORLD HERITAGE SITE IN INDIA
इसे 2014 में यूनेस्को द्वारा इस सूची में सम्मिलित किया गया है
 ग्रेट हिमालयन राष्ट्रीय उद्यान हिमाचल राज्य के कुल्लू जिले में स्थित है
 इस राष्ट्रीय उद्यान में भूरा भालू बर्फीला तेंदुआ आदि दुर्लभ प्रजाति के जानवर पाए जाते हैं।





                              उड़ीसा

कोणार्क का सूर्य मंदिर उड़ीसा

कोणार्क का सूर्य मंदिर भारत के उड़ीसा राज्य में कोणार्क नामक स्थान पर स्थित है
जिसे 1984 में यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत सूची में सम्मिलित किया गया है।
गोवा

गोवा के चर्च

इन्हें 1986 में इस सूची में सम्मिलित किया गया है
गोवा के चर्च लगभग 16 वीं शताब्दी में निर्मित हुए थे
यह चर्च पुर्तगाली गोथिक शैली में बने हुए  है
 यहां का चर्च आफ सैंट फ्रांसिस एसिसी, सेंट फ्रांसिस को पूरी तरह समर्पित है
इन चर्च में लकड़ी पर उकेरी गई कास्ट कला और कई चित्र दर्शनीय है।


पश्चिमी घाट -UNESCO WORLD HERITAGE SITE



पश्चिमी घाट महाराष्ट्र +गोवा+कर्णाटक+केरल 

 भारत के पश्चिमी तट पर स्थित पर्वत श्रृंखला को पश्चिमी घाट कहते हैं।
यूनेस्को द्वारा पश्चिमी घाट पर स्थित 39 स्थलों को वर्ष 2012 में इस सूची में सम्मिलित किया गया।
इनमें 2 बायोस्फीयर रिजर्व तथा 13 नेशनल पार्क स्थित है।
यह संपूर्ण विश्व में जैव विविधता के लिहाज से बहुत ही महत्वपूर्ण स्थल है।
जैव विविधता के दृष्टिकोण से पूरे पश्चिमी घाट को पारिस्थितिकी रूप से संवेदनशील क्षेत्र घोषित किया गया है।


                                  सिक्किम

कंचनजंगा राष्ट्रीय पार्क सिक्किम

 कंचनजंगा राष्ट्रीय पार्क को वर्ष 2016 में इस सूची में सम्मिलित किया गया है
यह भारत में स्थित हिमालय की सर्वोच्च चोटी पर स्थित राष्ट्रीय पार्क है
इस राष्ट्रीय पार्क में अधिकांश समय बर्फ छाई रहती है।


चंडीगढ़


ली करबूसियर के स्थापत्य कार्य चंडीगढ़

चंडीगढ़ शहर में ली करबूसीयर के द्वारा किए गए स्थापत्य कार्यों को वर्ष 2016 में इस सूची में सम्मिलित किया गया।।।


किसी भी कोचिंग में एडमिशन लेने से पहले  इन बातो का रखे विशेष ध्यान 
7 important tips for clear exam from home without coaching 
important  study material for exams 
 mppsc /civil service exam preparation 

IMPORTANT BOOKS FOR MPPSC EXAM 

Previous
Next Post »