What is power and duties of UPSC in Hindi?

 संघ लोक सेवा आयोग  UPSC

What is power and duties of UPSC in Hindi?

power and duties of UPSC in Hindi?



➥मुख्यालय नई दिल्ली
➥संवैधानिक अनुच्छेद --315
➥वर्तमान अध्यक्ष श्री अरविन्द सक्सेना 

 भारतीय संविधान के अनुच्छेद 315 के अंतर्गत संघ के लिए संघ लोक सेवा आयोग तथा राज्यों के लिए एक एक राज्य लोक सेवा आयोग का प्रावधान किया गया है 

➤➤➤संघ लोक सेवा आयोग से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्य

 संघ लोक सेवा आयोग में एक अध्यक्ष सहित 9 या 11 सदस्य होते हैं
 संघ लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष तथा सदस्यों की नियुक्ति राष्ट्रपति के द्वारा की जाती है
 संघ लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष एवं सदस्य का कार्यकाल 6 वर्ष या 65 वर्ष की आयु जो भी पहले हो तक की अवधि के लिए निर्धारित होता है
संघ लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष तथा सदस्यों को साबित कदाचार एवं दूराचरण के आधार पर निर्धारित रीति से हटाया जा सकता है 
वर्तमान में संघ लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष श्री अरविन्द सक्सेना  है।


➤➤➤संघ लोक सेवा आयोग के कार्य एवं अधिकार /What is power and duties of UPSC in Hindi?


संघ लोक सेवा आयोग विभिन्न अखिल भारतीय सेवाओं की नियुक्ति के लिए परीक्षा आयोजित करता है
संघ लोक सेवा आयोग अखिल भारतीय स्तर की सेवाओं के अतिरिक्त अन्य केंद्रीय कार्मिकों की नियुक्ति के लिए भी परीक्षा आयोजित करता है।
संघ लोक सेवा आयोग स्थानांतरण पदोन्नति विभागीय जांच आदि से संबंधित विभिन्न विभागों के निवेदन पर अपना योगदान देता है
संघ की सेवाओं के दौरान घायल हो जाने के कारण पेंशन देने संबंधी मामलों से जुड़े कार्यों में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है
यूपीएससी राष्ट्रपति द्वारा शॉप पर गए दायित्वों को भी पूरा करता है

आयोग के कार्य

संविधान के अनुच्छेद 320 के अंतर्गत, अन्‍य बातों के साथ-साथ सिविल सेवाओं तथा पदों के लिए भर्ती संबंधी सभी मामलों में आयोग का परामर्श लिया जाना अनिवार्य होता है। संविधान के अनुच्छेद 320 के अंतर्गत आयोग के प्रकार्य इस प्रकार हैं:

  1. संघ के लिए सेवाओं में नियुक्‍ति हेतु परीक्षा आयोजित करना
  2. साक्षात्‍कार द्वारा चयन से सीधी भर्ती
  3. प्रोन्‍नति/ प्रतिनियुक्‍ति/ आमेलन द्वारा अधिकारियों की नियुक्‍ति
  4. सरकार के अधीन विभिन्‍न सेवाओं तथा पदों के लिए भर्ती नियम तैयार करना तथा उनमें संशोधन
  5. विभिन्‍न सिविल सेवाओं से संबंधित अनुशासनिक मामले
  6. भारत के राष्‍ट्रपति द्वारा आयोग को प्रेषित किसी भी मामले में सरकार को परामर्श देना

  ➽➽NOTE ---- भारत में सबसे पहले संघ लोक सेवा आयोग का गठन भारत शासन अधिनियम 1919 जिसे मांटेग्यू चेम्सफोर्ड सुधार के नाम से भी जाना जाता है, के प्रावधानों के अंतर्गत वर्ष 1926 में केंद्रीय लोकसेवा आयोग के रूप में हुआ था।
ब्रिटिश भारत में संघ लोक सेवा आयोग के सबसे पहले अध्यक्ष सर रोज बार कर थे
स्वतंत्र भारत में संघ लोक सेवा आयोग के सबसे पहले अध्यक्ष एच के कृपलानी थे
Previous
Next Post »