Ads by Eonads

[IMP*] कर्क, मकर एवं विषुवत रेखा पर स्थित देश

 कर्क रेखा, मकर रेखा, विषुवत रेखा ,ग्रीनविच रेखा एवं अन्य महत्वपूर्ण अक्षांश पर स्थित विभिन्न देशों के नाम तथा कर्क रेखा पर स्थित भारत के राज्यों के नाम एवं दिशाओं के अनुसार उनका क्रम  



ग्लोब की विभिन्न रेखाओं अर्थात अक्षांश एवं देशांतर पर स्थित विभिन्न देशों एवं राज्यों की स्थिति से संबंधित तथ्य एवं प्रश्न विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में अक्सर पूछे जाते हैं ,यहां पर कर्क रेखा पर स्थित देशों की संख्या एवं नाम मकर रेखा पर स्थित देशों की संख्या एवं नाम विषुवत रेखा पर स्थित देशों की संख्या एवं नाम तथा प्रधान मध्यान रेखा जिसे  ग्रीनविच मीन टाइम [GMT] भी कहते हैं ,इस पर स्थित विभिन्न देशों की नामों की सूची दी गई है।


kark rekha vishwa ke kitne desho se hokar gujarti hai

कर्क रेखा पर स्थित देशों के संख्या एवं नाम 

कर्क रेखा साडे 23 डिग्री उत्तरी अक्षांश [23.5* N] की रेखा को कहते हैं

कर्क रेखा विश्व के तीन महाद्वीपों के 17 देशों से होकर गुजरती है, तीन महाद्वीपों में -उत्तरी अमेरिका महाद्वीप, अफ्रीका महाद्वीप एवं एशिया महाद्वीप सम्मिलित है ,तथा कर्क रेखा पर स्थित देशों के नाम (पश्चिम दिशा से पूर्व दिशा की ओर ) निम्न है।

मेक्सिको ,बहमास ,पश्चिमी सहारा, मॉरिटानिया ,माली ,अल्जीरिया, नाइजर, लीबिया ,मिस्र, सऊदी अरब ,संयुक्त अरब अमीरात, ओमान ,भारत, बांग्लादेश, म्यांमार ,चीन, ताइवान।


makar rekha vishwa ke kitne desho se hokar gujarti hai

मकर रेखा पर स्थित देशों के नाम 

मकर रेखा साढे 23 डिग्री दक्षिणी अक्षांश रेखा को कहते हैं।

मकर रेखा तीन महाद्वीपों समेत कुल 10 देशों से होकर गुजरती है ,

इन तीन महाद्वीपों में -दक्षिणी अमेरिका महाद्वीप ,अफ्रीका महाद्वीप एवं ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप सम्मिलित है,

 मकर रेखा  पर स्थित देशों के नाम पश्चिम दिशा से पूर्व दिशा की ओर निम्नलिखित है -

चिली ,अर्जेंटीना, पराग्वे, ब्राजील, नामीबिया ,बोत्सवाना, दक्षिण अफ्रीका,मोजांबिक ,मेडागास्कर, ऑस्ट्रेलिया।

bhumadhya /vishuvat rekha kin kin desho se hokar gujarti hai

 विषुवत रेखा पर स्थित देश एवं महाद्वीप के नाम

विषुवत रेखा को भूमध्य रेखा के नाम से भी जाना जाता है ,यह 0 डिग्री अक्षांश की रेखा है जो पूरी पृथ्वी को  उत्तरी गोलार्ध एवं दक्षिणी गोलार्ध में विभाजित करती है।

विषुवत रेखा विश्व के तीन महाद्वीपों- दक्षिणी अमेरिका महाद्वीप ,अफ्रीका महाद्वीप एवं एशिया महाद्वीप से होकर गुजरती है, साथ ही साथ भूमध्यरेखा विश्व के कुल 12 देशों से गुजरती है,

 विषुवत रेखा पर स्थित देश ( पश्चिम दिशा से पूर्व दिशा की ओर) निम्नलिखित है।

इक्वाडोर ,कोलंबिया, ब्राजील, गेबौन, कांगो रिपब्लिक, कांगो रिपब्लिक डेमोक्रेटिक( लोकतांत्रिक कांगो गणराज्य )युगांडा, केन्या, सोमालिया, मालदीव, इंडोनेशिया, किरीबाती।

 जीरो डिग्री देशांतर अर्थात ग्रीनविच याम्योत्तर या प्रधान याम्योत्तर पर स्थित देशों के नाम।

ग्रीनविच याम्योत्तर से संपूर्ण विश्व का समय निर्धारित होता है, यह जीरो डिग्री देशांतर के रखा है, इस पर स्थित देशों के नाम निम्नलिखित है

 ग्रीनलैंड ,ब्रिटेन, स्पेन ,अल्जीरिया ,फ्रांस ,माले, बुर्किना फासो ,घाना


अंतर्राष्ट्रीय तिथि रेखा पर स्थित देश एवं महासागर

अंतर्राष्ट्रीय तिथि रेखा 180 डिग्री के देशांतर को कहते हैं ,180 डिग्री पूर्वी देशांतर एवं 180 डिग्री पश्चिमी देशांतर  एक ही है,

 अंतर्राष्ट्रीय तिथि रेखा पर स्थित देश एवं महासागर के नाम निम्न हैं - 

आर्कटिक सागर, चूकी सागर, बेरिंग जल संधि ,प्रशांत महासागर 

[नोट- अंतर्राष्ट्रीय तिथि रेखा किसी भी देश के ऊपर से होकर नहीं गुजरती है, क्योंकि एक देश के ऊपर से अंतर्राष्ट्रीय तिथि रेखा के गुजरने से उस देश में दो तिथियां होने से गणना संबंधी कठिनाइयां उत्पन्न होती है ,इसी कारण संपूर्ण देश में एक ही तिथि हो ऐसा करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय तिथि रेखा के समीप स्थित देशों ने 180 डिग्री देशांतर को कहीं पर पूर्व दिशा में तथा कहीं पर पश्चिम दिशा की ओर मोड़ दिया गया है।]

कर्क रेखा पर स्थित भारत के राज्यों के नाम एवं पश्चिम दिशा से पूर्व दिशा की ओर उनका क्रम

कर्क रेखा भारत के लगभग मध्य से होकर गुजरती है ,

 कर्क रेखा पर स्थित भारत के 8 राज्यों का क्रम  पश्चिम दिशा से पूर्व दिशा की ओर निम्नलिखित है

 गुजरात ,राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा, मिजोरम 

परीक्षा की दृष्टि से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्य

कर्क रेखा भारत के 8 राज्यों में से होकर गुजरती है, जिनमें से कर्क रेखा के सर्वाधिक लंबाई मध्यप्रदेश राज्य में है तथा सबसे कम राजस्थान राज्य में है।

कर्क रेखा पर स्थित भारतीय राज्यों में से गुजरात की राजधानी गांधीनगर ,मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल ,झारखंड की राजधानी रांची एवं मिजोरम की राजधानी आइजोल कर्क रेखा के लगभग नजदीक स्थित है।

भारत की मानक समय  देशांतर अर्थात साढे 82 डिग्री पूर्वी देशांतर में स्थित राज्यों के नाम।

साढ़े 82  डिग्री पूर्वी देशांतर से भारत का मानक समय निर्धारित किया गया है यह देशांतर भारत के कुल 5 राज्यों से होकर गुजरता है जिनके नाम निम्नलिखित है 

उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, उड़ीसा ,आंध्र प्रदेश।

 साढे 82 डिग्री पूर्वी देशांतर रेखा जिससे भारत का मानक समय निर्धारित किया गया है यह रेखा इलाहाबाद के पास मिर्जापुर एवं नैनी से होकर के गुजरती है


 परीक्षा उपयोगी कुछ अन्य महत्वपूर्ण तथ्य 


Q-भारत की कौन सी नदी कर्क रेखा को दो बार काटती है?

माही नदी कर्क रेखा को दो बार काटती है ,माही नदी का उद्गम स्थल मध्यप्रदेश के धार जिले से हैं, तथा यह धार जिले से होकर राजस्थान एवं गुजरात में प्रवाहित होती हुई खंभात की खाड़ी में गिरती है।

Q-विश्व की कौन सी नदी विषुवत रेखा  को दो बार काटती है?

कांगो (जाएरे) नदी विषुवत रेखा को दो बार काटती है यह नदी अफ्रीका महाद्वीप के मध्य भाग में प्रवाहित होते हुए अटलांटिक महासागर में गिरती है।

Q-विश्व की कौन सी नदी मकर  रेखा को दो बार काटती है?

मकर रेखा को दो बार काटने वाली नदी का नाम लिंपोपो नदी है यह नदी अफ्रीका महाद्वीप के देश साउथ अफ्रीका में बहती है। तथा पूर्व की ओर बहती हुई हिंद महासागर में गिरती है।

Q-आर्कटिक वृत्त साढे 66 डिग्री उत्तरी अक्षांश [66.5*N]पर स्थित देश एवं महाद्वीपों के नाम-

साडे 66 डिग्री उत्तरी अक्षांश को Arctic सर्कल या उत्तरी वृत्त के नाम से भी पहचाना जाता है।

आर्कटिक वृत्त पर विश्व के 3 महाद्वीप उत्तरी अमेरिका महाद्वीप यूरोप महाद्वीप एवं एशिया महाद्वीप स्थित है।

आर्कटिक वृत्त पर स्थित देश निम्नलिखित है

रूस ,अलास्का 9संयुक्त राज्य अमेरिका)कनाडा ,ग्रीनलैंड ,आइसलैंड, नॉर्वे स्वीडन, फिनलैंड।

बेरिंग जल संधि भी आर्कटिक वृत्त पर स्थित है यह जलसंधि उत्तरी अमेरिका महाद्वीप एवं एशिया महाद्वीप के संयुक्त राज्य अमेरिका तथा रूस देश को अलग करती है ,साथ ही साथ बेरिंग जल संधि अंतर्राष्ट्रीय तिथि रेखा के निकट स्थित है।

साडे 66 डिग्री दक्षिणी अक्षांश अंटार्कटिक व्रत पर स्थित देश एवं महाद्वीप-

अंटार्कटिक व्रत पर केवल अंटार्कटिका महाद्वीप स्थित है।


read also ---

Previous
Next Post »