MPPSC मैन्स एथिक्स पेपर IV new syllabus in Hindi

 MPPSC mains ethics paper IV new syllabus in Hindi 


नीतिशास्त्र सत्यनिष्ठा दर्शन शास्त्र मनोविज्ञान एवं लोक प्रशासन mppsc mains paper 4 


MPPSC mains ethics paper IV syllabus in Hindi


मानवीय आवश्यकताएं एवं अभिप्रेरणा ,
लोक प्रशासन में नैतिक सद्गुण एवं मूल्य 
प्रशासन में नैतिक तत्व -

  सत्य निष्ठा ,उत्तरदायित्व एवं पारदर्शिता ,

नैतिक तर्क एवं नैतिक दुविधा तथा नैतिक मार्गदर्शन के रूप में अंतर आत्मा 

लोक सेवकों हेतु आचरण संहिता ,
शासन में उच्च मूल्यों का पालन।

दार्शनिक विचारक सामाजिक कार्यकर्ता तथा समाज सुधारक

  • महावीर
  •  बुद्ध
  • कौटिल्य
  •  प्लेटो
  • अरस्तु
  •  सुकरात 
  • गुरु नानक 
  • कबीर दास 
  • तुलसीदास
  •  रविंद्र नाथ टैगोर 
  • राजा राममोहन राय 
  • स्वामी दयानंद सरस्वती
  •  स्वामी विवेकानंद 
  • श्री अरविंदो
  • मोहनदास करमचंद गांधी 
  • सर्वपल्ली राधाकृष्णन 
  • डॉ भीमराव अंबेडकर 
  • मौलाना अबुल कलाम आजाद 
  • दीनदयाल उपाध्याय 
  • राम मनोहर लोहिया
  •  महर्षि अरविंद 
  • सावित्रीबाई फुले 
  • आचार्य शंकर
  •  ऋषि चार्वाक

मनोवृति -
  •               विषय वस्तु ,तत्व ,प्रकार्य ,
  •               मनोवृत्ति का निर्माण ,मनोवृत्ति परिवर्तन ,
  •                प्रबोधक संप्रेषण पूर्वाग्रह तथा विभेद
  •                भारतीय संदर्भ में रूढ़िवादिता ,


अभिक्षमता एवं लोक सेवा हेतु आधारभूत योग्यताएं 


  • सत्य निष्ठा 
  • निष्पक्षता एवं और समर्थक वादिता  
  • वस्तुनिष्ठता
  •  लोक सेवा के प्रति समर्पण 
  • समानुभूति 
  • सहिष्णुता
  • कमजोर वर्गों के प्रति संवेदना एवं
  • करुणा

सांवेगिक बुद्धि अवधारणा ,प्रशासन शासन में इसकी उपयोगिता एवं अनुप्रयोग 

भ्रष्टाचार के प्रकार, कारण भ्रष्टाचार को अल्पमत करने के उपाय- समाज सूचना तंत्र परिवार एवं विसलब्लोअर की भूमिका

भ्रष्टाचार पर राष्ट्र संघ की घोषणा 
भ्रष्टाचार का मापन
अंतरराष्ट्रीय पारदर्शिता


Previous
Next Post »